Review: Maruti Suzuki की नई Wagon R पहले से हुई बड़ी और पावरफुल, क्या दम है इसमें ?

बनी कालरा मारुति सुजुकी की वैगन-आर भारतीय ग्राहकों की पसंदीदा कार हमेशा से ही रही है समय-समय पर इसमें कई बदलाव भी देखने को मिलते रहे हैं। लेकिन इस बार एक दम नए अवतार के साथ मारुति सुजुकी की वैगन-आर मार्किट में आ चुकी है। नई वैगन-आर के साथ काफी समय बिताने के बाद इसका फुल रिव्यू हम आपके लिए लेकर आये हैं आइये जानते है  क्या यह वाकई पहले से बेहतर हुई है ?

डिजाइन: नई वैगन-आर पहली ही नजर में आपका ध्यान आकर्षित करने में कामयाब हो जाएगी क्योकिं अब इसमें एक मिनी एमपीवी जैसी झलक नजर आती है। इसके सामने का हिस्सा पूरी तरफ से नया है, सामने से देखें तो इसमें रैक्टैंगुलर फ्रंट ग्रिल दी गई है, इसके अलावा ड्यूल-स्प्लिट हेडलैम्प्स हैं लगाये हैं जिससे यह ज्यादा स्टाइलिश नजर आती हैं। इंटीग्रेटेड टर्न लाइट्स के साथ आउटसाइड रियर व्यू मिरर्स दिए गए हैं। इसके साइड प्रोफाइल में भी नयापन है जबकि इसके बैक डिजाइन पर भी खास ध्यान दिया गया है और स्कवॉयर शेप की वील आर्च से मस्कुलर और टफ करैक्टर देने को कोशिश की गई है। कंपनी ने इसकी लंबाई, चौड़ाई और वील बेस में अच्छा खासा इजाफा। इसका डिजाइन न सिर्फ नया है बल्कि इस सेगमेंट की दूसरी गाड़ियों से यह खुद को अलग खड़ा करने का दम रखती है। 

इंटीरियर:  कार का कैबिन एक दम से फ्रेश फील देता है। इसमें इस्तेमाल की गई प्लास्टिक क्वॉलिटी और फिट-फिनिश अब पहले से ज्यादा बढ़िया नजर आती है। इंटीरियर और सीट्स डुअल टोन फिनिश में हैं और ये यहाँ पर फ्रेश फील भी देती हैं। पुरानी वैगन-आर में जहां एयरवेंट के नीचे एक चिल ट्रे पहले थे जिसमें आप कैन और बॉटल्स को ठंडा कर सकते थे, अब वो नए मॉडल में नहीं मिलेगा  हीं मिलेगा साथ ही अब एक ही ग्लव बॉक्स का ऑप्शन भी देखने को मिलता है दिया गया है। इसके अलावा कार में नया स्पीडोमीटर मिलेगा।

स्पेस: इस बार नई वैगन-आर में स्पेस की कोई कमी नहीं है।  आगे और पीछे बैठने वालों के लिए कार में बढ़िया जगह मिलती है इसमें हेड रूम पहले भी बेस्ट था और अब भी बेस्ट है साथ ही काफी बेहतर लेग रूम भी मिलता है।  कार में बूट स्पेस पहले से लगभग दोगुना हो गया है,  यानी काफी सामान आप इसमें रख सकते हैं। 5 इसमें बैठ सकते हैं लेकिन अगर आप लॉन्ग ड्राइव पर जा रहे हैं गाड़ी में चार लोग ही कंफर्टेबल रहेंगे।

फीचर्स: कार में 7 इंच टच स्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम दिया गया है जोकि सिर्फ 1.2 लीटर वाले टॉप वैरियंट्स में ही मिलेगा।  इसमें आप ऐपल कार प्ले और एंड्रॉयड ऑटो की सुविधा है। स्मार्टप्ले स्टूडियो के रूप में एक ऐप भी पेश किया है, इसे अपने फोन में इंस्टॉल करके कार में बैठे तीन लोग इंफोटेनमेंट सिस्टम के म्यूजिक समेत कई दूसरे फीचर्स को अपने फोन से कंट्रोल कर सकते हैं, यानी अब गाना चेंज करने के लिए  आगे बैठे लोगों को बोलना नहीं पड़ेगा।

सेफ्टी: कुछ जरूरी फीचर्स की बात करें तो कार में ड्राइवर एयरबैग, एबीएस-ईबीडी और रिवर्स पार्किंग सेंसर्स जैसे फीचर्स स्टैंडर्ड दिए गए हैं। इसके अलावा कार में डे-नाइट IRVM, इलेक्ट्रिक एडजस्ट एंड रिट्रैक्टेबल ORVM, 60:40 स्पिलिट सीट, टिल्ट स्टीयरिंग, रिमोट की-लेस एंट्री जैसे फीचर्स दिए हैं लेकिन कार में रिवर्स पार्किंग कैमरे की कमी महसूस होती है।  इसके अलावा कार में अलॉय वील्स और रिमूवेबल हेडरेस्ट की कमी भी खलती है। 

परफॉरमेंस: नई वैगन-आर 1.0L और 1.2L पेट्रोल इंजन के साथ आती है लेकिन हमें मौका मिला इसके 1.2L पेट्रोल मॉडल को ड्राइव करने का।  इसका K-सीरीज का 1.2-लीटर जोकि  4-सिलिंडर पेट्रोल इंजन में है, और यह  83hp की पावर और 113Nm टॉर्क देता है। एक लीटर में यह कार 21.5 km की माइलेज देती है। नए हार्ट-टेक्ट प्लैटफॉर्म के आने के बाद अब इस कार की हैंडलिंग पहले से काफी बेहतर हुई है, हाई स्पीड पर यह आपको अब ज्यादा कॉन्फिडेंस देती है। सिटी और छोटी ड्राइव के दौरान अब आप ज्यादा कंफर्टेबल रहते हैं लेकिन अगर आप लॉन्ग ड्राइव पर जाते हैं तो थकान का सामना आपको करना पड़ता है वही पिछली सीटों पर थाई सपोर्ट कम होने की वजह से बहुंत लंबे सफर में ज्यादा आराम नहीं मिल पता। लेकिन इसमें ज्यादा लेग और हेड रूम है इसलिए आप बॉडी को आराम से मूव कर सकते हैं। नई वैगन-आर का सीधा मुकाबला हुंडई की सैंट्रो से ही है। अब चुकीं दोनों ही कारें टॉल बॉय डिजाइन में हैं और दोनों ही कारें नए अवातर में आ चुकी हैं तो ऐसे में ग्राहकों के पास अब भी बेहतर ऑप्शन हैं। कुल मिलाकर नई वैगन-आर पहले से बेहतर हुई है और ड्राइव करते समय कॉन्फिडेंस पूरा रहता है।   

कीमत: नई वैगन-आर 1.2L मॉडल की कीमत 4.89 लाख रुपये से लेकर 5.22 लाख रुपये के बीच है जबकि इसके AGS मॉडल की कीमत 5.69 लाख रुपये है। सभी कीमतें दिल्ली ने एक्स शो-रूम हैं।