मुंबई पुलिस ने नकली हेलमेट बनाने और बेचने वालों पर सख्त कार्यवाई करने का किया फैंसला

मुंबई: साइबराबाद पुलिस और UP पुलिस के बाद अब मुंबई पुलिस  ने भी नकली हेलमेट बनाने और बेचने वालों पर  सख्त कार्यवाई करने का फैंसला कर लिया है. मार्केट में उपलब्ध सस्ते और घटिया हेलमेट के खिलाफ ट्रैक्स रोड सेफ्टी सोसाइटी की ओर से 14 फरवरी को जुहू, मुंबई में हेलमेट इंडिया अभियान चलाया गया.

लोगों ने इस अभियान में बढ़चड़कर हिस्सा लिया. जिसे मुंबई ट्रैफिक पुलिस और मुंबई नगर निगम के सहयोग से चलाया गया. इस पूरे कार्यक्रम को सफल बनाने में अहम भूमिका निभाई ARTO Mumbai के Mahendra Patil ने, जोकि पूरे कार्क्रम के दौरान मौजूद रहे. इतना ही नहीं इस मौके पर सीनियर पुलिस इंस्पेक्टर RTO, मिथुन पाटिल और ट्रैफिक पुलिस डिवीज़न के सीनियर पुलिस इंस्पेक्टर संताजी घोरपड़े भी मौजूद रहे.

पुलिस ने लोगों को यातायात नियमों का महत्व समझाया, साथ ही उन्हें यह भी समझाया कि नकली हेलमेट किस कदर जानलेवा है. इसके अलावा. खास बात यह रही कि बाइक सवारों को जागरूक किया गया कि वे क्या पहनें और क्या नहीं पहनें, और जो लोग नकली और घटिया हेलमेट पहनकर आये उनसे उनके हेलमेट ले कर बदले में असली ISI मार्क हेलमेट बांटे गये, साथ ही पुलिस ने लोगों के सामने उनके ही हेलमेट को हथोडी से तोड़कर भी दिखाया गया ताकि वो ये समझ सकें वो जिस हेलमेट को अब तक पहन रहे थे वो कितना घटिया और जानलेवा है, जो सिर्फ चालान से तो बचा सकता है पर सड़क हादसे में कभी नहीं बचा पायेगा.

जिन लोगों को नकली और घटिया हेलमेट बदले में असली दिए गये, हमने उनसे बात कि….इसके अलावा स्कूल के बच्चों द्वारा एक नाटक के जरिये भी लोगों को रोड सेफ्टी और असली हेलमेट की अहमियत को समझाया गया.

इस प्रोग्राम के बाद हमने मुम्बई में मौजूदा कुछ हेल्मेट्स डीलर्स से भी बात की.दोस्तों हमेशा ISI मार्क वाला असली हेलमेट पहने और सुरक्षित रहें, और जो लोग अभी भी नकली हेल्मेट्स बना रहे हैं और जो इन्हें बेच रहे हैं उनका बच पाना अब मुश्किल है.क्योंकि नकली हेल्मेट्स के खिलाफ यह अभियान अब पूरे देश में शुरू हो चुका  है.

हमारा यह मानना है कि जैसे हैदराबाद पुलिस ने फेक हेलमेट्स कंपनियों पर रेड की थी, अब मुंबई पुलिस भी फेक हेलमेट्स कंपनियों पेर रेड करेगी क्योंकि अब पुलिस यह जान गई है कि नकली हेलमेट पहनने वालों को कब तक पकड़ते रहेंगे, भारत में जो 100- 200 लोग नकली हेलमेट बना रहे हैं उनको ही पकड़ा जाए. और उन फक्ट्रियों को जड़ से खत्म किया जाए  तभी बात बनेगी.