Bridgestone India ने 29% अधिक समय तक चलने वाले स्टर्डो टायर को बाजार में उतारा

ब्रिजस्टोन इंडिया, पूरी दुनिया में टायरों एवं रबर के क्षेत्र में अग्रणी तथा आवागमन हेतु सुरक्षित एवं टिकाऊ समाधान उपलब्ध कराने वाले संगठन, ब्रिजस्टोन ग्रुप का हिस्सा है, जिसने आज ब्रिजस्टोन स्टर्डो को बाजार में उतारा है, जो यात्री वाहनों के क्षेत्र में नेक्स्ट-जेनरेशन टायर है। इस टायर को बेहद खास ट्रेड कंपाउंड से तैयार किया गया है, जो टायरों के जीवन-काल को 29% तक बढ़ाने के अलावा उबड़-खाबड़ सड़कों पर सवारी को अधिक आरामदेह बना देता है।

ब्रिजस्टोन स्टर्डो 12″ से लेकर 16″ तक के 27 अलग-अलग आकारों में उपलब्ध है, जिसके कई वेरिएंट हैं। इन टायरों को हैचबैक, सेडान और कुछ सीयूवी (CUVs) गाड़ियों के बाजार को ध्यान में रखते हुए तैयार किया गया है।

भारतीय ग्राहकों के बीच लंबे समय तक चलने वाले टायरों की मांग काफी अधिक है, और स्टर्डो टायर इसी अहम जरूरत को पूरा करता है। इन टायरों को जबरदस्त मजबूती वाले बेहद खास ट्रेड कंपाउंड से तैयार किया गया है, जो टायरों के घिसावट से बचने की क्षमता को बढ़ाते हैं और इसी वजह से ये टायर काफी लंबे समय तक चलते हैं। 3डी ट्रेड ग्रूव्स के साथ बड़े सेंटर-ब्लॉक्स वाले ये टायर ड्राइविंग करते समय बेहतर सुरक्षा के लिए बेहतरीन ग्रिप प्रदान करते हैं, और यहाँ तक कि बेहद गीली सड़कों पर भी इनकी पकड़ जबरदस्त होती है।

इस मौके पर श्री पराग सतपुते, मैनेजिंग डायरेक्टर, ब्रिजस्टोन इंडिया ने कहा, “टायर टेक्नोलॉजी के मामले में ब्रिजस्टोन पूरी दुनिया में हमेशा सबसे आगे रहा है, और अब भारत में यात्री वाहनों के क्षेत्र में हमारी नई पेशकश- यानी ब्रिजस्टोन स्टर्डो के माध्यम से भी यही बात उजागर होती है। स्टर्डो टायर 29% अधिक समय तक चलते हैं और टायरों के नजरिए से देखा जाए तो यह उपयोगकर्ता के लिए बेहद किफायती एवं फायदेमंद है। फिलहाल ब्रिजस्टोन बाजार में अग्रणी स्थिति में है, और हमें पूरा यकीन है कि इस नई पेशकश से हमारी स्थिति को और बढ़ावा मिलेगा।” उन्होंने आगे कहा, “ब्रिजस्टोन ‘आत्मनिर्भर भारत’ के लिए प्रतिबद्ध रहा है और स्टर्डो टायर इसकी एक बेहतरीन मिसाल है। हमने हमेशा ग्राहकों को सबसे ज्यादा अहमियत दी है और हमारा लक्ष्य भारत के बड़े और तेजी से विकसित हो रहे बाजार के लिए आवागमन के सबसे बेहतर समाधान उपलब्ध कराना है, जो विश्व स्तर के मानकों के अनुरूप हो।”

ब्रिजस्टोन ग्राहकों को आवागमन के सबसे बेहतर समाधान उपलब्ध कराने के लिए अपने प्रोडक्ट रेंज को लगातार बेहतर बनाने की दिशा में काम कर रहा है। स्टर्डो टायर रेंज को खासतौर पर भारतीय सड़कों के लिए विकसित किया गया है और तकनीकी सेवाओं की टीम द्वारा अलग-अलग इलाकों में इन टायरों का कठोरता से परीक्षण किया गया है। इन परीक्षणों के नतीजों से पता चला कि, स्टर्डो का टायर जीवन-काल ब्रिजस्टोन के मौजूदा वेरिएंट की तुलना में 29% तक अधिक है।

श्री राजर्षि मोइत्रा, चीफ कमर्शियल ऑफिसर, ब्रिजस्टोन इंडिया, ने कहा, “स्टर्डो टायरों की रेंज पूरे भारत में मौजूद हमारे 3000 से अधिक डीलरों और सब-डीलरों के पास उपलब्ध होगी। अब इन बाजारों में टायर खरीदने वाले ग्राहक भी बिल्कुल नहीं टायर टेक्नोलॉजी का लाभ उठा सकते हैं। ग्राहकों को मिलने वाले फायदों, यानी मजबूती और स्थायित्व को ध्यान में रखकर ही इन टायरों को ब्रिजस्टोन स्टर्डो का नाम दिया गया है। बेहद सावधानीपूर्वक अनुसंधान एवं विश्लेषण करने के बाद ही इस प्रोडक्ट को तैयार किया गया है और यह भारतीय उपभोक्ताओं की सभी प्रमुख जरूरतों का समाधान उपलब्ध कराता है: जिसमें प्रोडक्ट का लंबा जीवन काल भी शामिल है और इसी वजह से इन टायरों को खरीदना बेहद किफायती है।”

चर्चा को आगे बढ़ाते हुए श्री दीपक गुलाटी, चीफ मार्केटिंग एंड इनोवेशन ऑफिसर, ब्रिजस्टोन इंडिया, ने कहा, ” स्टर्डो को बाजार में लंबे समय तक चलने वाले टायर के तौर पर उतारा गया है, और हमारे कैंपेन में ‘ज़माना बादल जाएगा, ब्रिजस्टोन स्टर्डो चलता ही जाएगा’ के माध्यम से इस बात को बड़े ही रचनात्मक तरीके से प्रस्तुत किया गया है। एक कंपनी के रूप में सफर के लिए सबसे बेहतर समाधान उपलब्ध कराने पर विशेष ध्यान देते हुए, ब्रिजस्टोन स्टर्डो के साथ हम “कितना लंबा चलेगा” के बुनियादी सवाल का जवाब पेश कर रहे हैं, जो सीधे तौर पर हमारे प्रोडक्ट के लंबे जीवन काल को दर्शाता है और इस तरह ग्राहकों को भी लंबे समय में कम लागत का फायदा मिलता है। ये सारी बातें ब्रिजस्टोन स्टर्डो की बुनियादी खूबियों को और मजबूती प्रदान करती हैं, लिहाजा हमें पूरा यकीन है कि ग्राहक इससे जुड़ेंगे। विभिन्न भाषाओं में डिजिटल मार्केटिंग एवं पारंपरिक मार्केटिंग से संबंधित पहलों के साथ स्टर्डो को लॉन्च किया गया है।”