लग्जरी गाड़ियां खरीदना अब हो जायेगा ज्यादा महंगा जानिये वजह

लग्जरी वाहनों पर 15 प्रतिशत से लेकर 25 प्रतिशत तक GST सेस बढ़ाने के बिल को लेकर लोकसभा में मंजूरी मिल गई है।

नई दिल्ली।ऑटो डेस्क। लग्जरी कार खरीदने वालों के लिए ये खबर निराश कर सकती है। लग्जरी वाहनों पर 15 प्रतिशत से लेकर 25 प्रतिशत तक GST सेस बढ़ाने के बिल को लेकर लोकसभा में मंजूरी मिल गई है। सरकार ने यह फैसला GST के रोलआउट होने के बाद राज्यों के राजस्व में हो रहे घाटे की क्षतिपूर्ति करने के लिए लिया है।

केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगडे के इस्तीफे की मांग को लेकर हंगामे में नारेबाजी के बीच संक्षिप्त चर्चा के बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि इस विधेयक से राज्यों को 14 प्रतिशत की निश्चित क्षतिपूर्ति सुनिश्चित करने के लिये विलासिता की श्रेणी में आने वाले महंगे वाहनों पर 15 प्रतिशत की बजाए 25 प्रतिशत तक दर बढ़ाने का अधिकार GST परिषद को मिल जाएगा।

एक छोटी बहस के जवाब में, वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि लक्जरी वाहनों के सेस में वृद्धि के बाद एकत्रित धन का इस्तेमाल गुड्स एंड सर्विस टैक्स (GST) के कार्यान्वयन के कारण राजस्व हानियों के लिए राज्यों की भरपाई के लिए किया जाएगा।

मिड साइज से लेकर हाइब्रिड वेरिएंट तक की लग्जरी कारों पर GST सेस की बढ़ोतरी को एक से 25 प्रतिशत  तक बढ़ाए जाने की अनुमति देने वाले अध्यादेश को सितंबर में जारी किया गया था। टैक्स रेट को 15 प्रतिशत  से बढ़ाकर 25 प्रतिशत  कर दिया गया। इस संदर्भ में GST (राज्यों को मुआवजे) अधिनियम, 2017 में संशोधन करके 9 सितंबर को प्रस्तावित GST काउंसिल की बैठक से पहले तुरंत अधिकतम दरों में वृद्धि की जानी थी ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि ऐसे मोटर वाहनों के लिए प्रतिकर सेस हेतु अधिकतम दर में राहत उपलब्ध हों।