इन कारणों से मारुति सुजुकी स्विफ्ट क्रैश टेस्ट में हुई फेल, मिली 2 स्टार रेटिंग

ऑटो डेस्क। देश की सबसे बड़ी कार निर्मात कंपनी मारुति सुजुकी की नई स्विफ्ट एक बार फिर से चर्चा में है, ग्लोबल NCAP के द्वारा किये गये क्रैश टेस्ट में स्विफ्ट को 5 में से सिर्फ 2 स्टार रेटिंग ही मिली है। यानी यह कार सुरक्षा के हिसाब से कमजोर साबित हुई है।

इस खराब रेटिंग के पीछे जो वजहें बताई गई हैं, उनमें ड्राइवर के सीने पर भारी दबाव, कार का कमजोर प्लेटफार्म और ड्राइवर के पैरों के लिए सुरक्षा के पर्याप्त इंतजामों का न होना शामिल है।  

इतना ही चाइल्ड प्रोटेक्शन के मामले में भी स्विफ्ट को 2 स्टार रेटिंग मिली है। ग्लोबल NCAP ने स्विफ्ट के टेस्ट के दौरान यह ही पाया कि यूरोपीय वर्जन के मुकाबले भारत में उपलब्ध वर्जन सेफ्टी के लिहाज से कमजोर है। स्विफ्ट के यूरोपीय वर्जन को दो अलग-अलग आधारों पर यूरो NCAP की रेटिंग में 3 और 4 स्टार रेटिंग्स मिली हैं।

ग्लोबल NCAP द्वारा यह टेस्ट गाड़ियों की सेफ्टी को परखने के लिए किया जाता है। इस टेस्ट में यह सुनिश्चित किया जाता है कि एडल्ट और चाइल्ड प्रोटेक्शन के लिहाज से गाड़ी कितनी सेफ है। इसके लिए कार को कुल 5 स्टार में से रेटिंग दी जाती है। यह देश की सबसे भरोसेमंद टेस्ट है।